Job or Business

सबसे पहले ये जाने की नौकरी या बिज़नेस क्या सही हे ??

बिज़नेस में जो फ्रीडम हे वो नौकरी में नहीं हे और बिज़नेस से लक्ष्य भी आसानी से पुरे होते हे जबकि नौकरी में आपकी तरक्की इस बात पर निर्भर करती हे कि कंपनी कैसी चल रही हे यही नहीं कई बार ये चापलूसी पर भी निर्भर हे |जरा सोचो दुनिया के सबसे आमिर व्यक्तियों कि लिस्ट में नौकरी वाले लोग कितने हे ?


Why Business


फिर भी ज्यादातर लोगो का मानना हे कि नौकरी ही सबसे आसान हे क्योंकि इसमें हमें कुछ घंटे महीने में २५ दिन काम करना हे और फिर सैलरी ले कर घर आजाना हे इससे घर का खर्च चलता हे और बचा हुआ पैसा बैंक में जाता हे |नौकरी में कंपनी के नफे नुक्सान से कोई फर्क नहीं पड़ता हे बस हर महीने सैलरी मिलनी होती हे |
अभिभावक भी अपने बच्चो को उन्ही लोगो के उदहारण दे कर बड़े करते हे जो कहीं नौकरी कर रहे होते हे इसी कारन अधिकतर लोग पढाई नौकरी के लिए ही करते हे और इनमे से केवल कुछ लोग ही व्यवसाय करते हे लेकिन विलासिता के इस युग में ज्यादातर लोग ये सोचते हे कि बिना काम किये ही कमाई हो जाये और इसी लिए ज्यादातर लोग अब नौकरी में भी मेहनत नहीं करते हे और फिर जब नौकरी छूट जाती हे या इससे सन्तुष्ट नहीं होने पर ये लोग फिर बिज़नेस करते हे और वहां भी काम नहीं करते हे इसी कारन ज्यादातर ऐसें लोग असफल होते हे और फिर उस बिज़नेस को ही गलत बताते हे या किस्मत को कोसते हे |
हम देखते हे कि कोई भी अभिभावक अपने बच्चो को धीरूभाई ,मित्तल, टाटा , लिर्लोस्कर आदि का उदहारण नहीं देता हे यहाँ तक कि किसान भी अपने बेटे को किसान नहीं बनाना चाहता हे वो भी नौकरी करे ये ही इच्छा रखता हे |लेकिन कोई भी बिज़नेस करने से पहले यह तय करना जरूरी हे कि बिज़नेस ही करना हे |


Reactions: